नहीं रहे दुनिया को PDF का तोहफा देने वाले चार्ल्स गेश्की, 81 वर्ष की आयु में निधन

Spread the love

लॉस आल्टोस. सॉफ्टवेयर निर्माता कंपनी एडोब (Adobe) के सह-संस्थापक और ‘पोर्टेबल डॉक्यूमेंट फॉर्मट’ (PDF) तकनीक का विकास करने वाले चार्ल्स ‘चक’ गेश्की का निधन हो गया. वह 81 वर्ष के थे. एडोब कंपनी के अनुसार गेश्की का शुक्रवार को निधन हो गया. वह सैन फ्रांसिस्को बे एरिया के लॉस आल्टोस उपनगर में रहते थे.

एडोब के सीईओ शांतनु नारायण ने कंपनी के कर्मचारियों को भेजे एक ईमेल में लिखा, ‘यह पूरे एडोब समुदाय और प्रौद्योगिकी जगत के लिए बड़ी क्षति है जिनके लिए वह (गेश्की) दशकों तक मार्गदर्शक और नायक रहे.’ नारायण ने लिखा, ‘एडोब के सह-संस्थापक के रूप में चक और जॉन वार्नोक ने एक परिवर्तनकारी सॉफ्टवेयर बनाया था जिसने लोगों के सृजन और संचार के तरीके को बदल दिया।उन्होंने कहा, ‘चक ने कंपनी में नवोन्मेष के लिए अथक प्रयास किए और उसके परिणामस्वरूप ही पीडीएफ, एक्रोबेट, इलस्ट्रेटर, प्रीमियर प्रो और फोटोशॉप जैसे बड़े बदलावकारी सॉफ्टवेयर विकसित हुए.’ गेश्की की पत्नी नैन्सी ने कहा कि उनके पति को अपने परिवार पर गर्व था. साल 2009 में तत्कालीन अमेरिकी राष्ट्रपति बराक ओबामा ने गेश्की और वरनॉक को नेशनल मेडल ऑफ टेक्नोलॉजी से नवाजा था.
मर्क्युरी न्यूज की एक रिपोर्ट के अनुसार, साल 1992 में गेश्की के अपहरण का प्रयास किया गया था. हालांकि, इसमें वे सुरक्षित रहे थे. दरअसल, काम पर आने के दौरान गेश्की पर दो लोगों ने बंदूक की नोक पर गेश्की को रोका और उन्हें लेकर हॉलिस्टर ले गए. यहां उन्हें 4 दिनों तक रखा. इस मामले में एक संदिग्ध को 6 लाख 50 हजार डॉलर की फिरौती की रकम के साथ पकड़ा था.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *