भ्रष्टाचारी और दलालों को सत्ता से बाहर करना जरूरी है ताकि समाज एक स्वस्थ जीवन जी सके .

Spread the love

महराजगंज। सदर क्षेत्र के ग्रामसभा मीठौरा के रहने वाले नदीम खान जिन्होंने द सन टाइम्स नयूजके जिला प्रभारी को जानकारी देते हुए बताया कि इस देश से जाति और उप जाति की हिंसा को खत्म करने के लिए अम्बेडकर ने लोकतंत्र को स्थापित करते हुए संविधान का निर्माण किया और दलितों के लिए आरक्षण लागू किया ताकि आने वाली दलित नश्ले जातिय हिंसा को ना झेले और उन्हें सामाजिक न्याय मिले । मैं एक शिक्षित समाज सेवी हूँ विश्वविद्यालय से ऊच शिक्षा हासिल किया हूं पर इस उच्च शिक्षा को पाना इतना आसान नहीं रहा । जिंदगी के कई मोड़ पर मुझे परेशानियों का सामना करना पड़ा यहां तक कुछ जातिवादी लोगों ने मुझे परेशान किया । जिंदगी के हर मोड़ पर संघर्ष करते हुए मैंने महसूस किया कि शिक्षा से ही जाति, गरीबी, हिंसा, दंगा जैसे चीजों को खत्म किया जा सकता है । पंचायती चुनाव में बेहद ही वीभत्स और गंदी राजनीति की जाती है जहाँ पर पैसा, दारू को खुले आम बाटा जाता है, जहाँ पर जातिय समीकरण काम करता है, जातीय वर्चस्व के आधार पर नेता को चुना जाता है, इसे एक प्रकार से संस्कृति में तब्दील कर दी गई है । हमें एक ऐसे स्वस्थ देश का निर्माण करना है जहां पर दारू, पैसा जैसी घटिया संस्कृति के लिए कोई भी जगह ना हो । एक ऐसा स्वस्थ समाज जहाँ पर एक औरत भी अपने आपको सुरक्षित महसूस करते हुए, मर्दों से कंधा से कंधा मिलाते हुए सिर्फ आरक्षित ही नहीं अनारक्षित सीटों पर भी चुनाव लड़े । उसे किसी भी तरह का भय ना हो । उसे उसकी स्त्रीत्व के चलते नकारा ना जाए । भ्रष्टाचारी और दलालों को सत्ता से बाहर करना जरूरी है ताकि समाज एक स्वस्थ जीवन जी सके । इस तरह की संस्कृति को लाने के लिए एक शिक्षित युवा को राजनीति में उतरना ही होगा । ताकि लोकतंत्र को बचाया जा सके .

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *