महिलाओं को शिक्षित करना है जरूरी : यशवीर कृष्ण…

Spread the love

प्राथमिक विद्यालय बिरैचा में मनाया गया अंतर्राष्ट्रीय महिला दिवस

  • महिलाओं को शिक्षित करना है जरूरी : यशवीर कृष्ण

महराजगंज

घुघली क्षेत्र के प्राथमिक विद्यालय बिरैचा में हर साल की भांति इस साल 8 मार्च को ‘अंतर्राष्ट्रीय महिला दिवस’ का आयोजन धूमधाम से किया गया । इस अवसर पर विद्यालय में महिलाओं सशक्तीकरण के उपर आयोजित कार्यक्रम ‘मिशन शक्ति अभियान’ के तहत लैंगिक जागरूकता पर बोलते हुए विद्यालय के प्रधानाध्यापक यशवीर कृष्ण त्रिपाठी ने कहा कि आजादी के 70 साल बाद भी देश में एक बड़ी संख्या में लड़कियां और बच्चियां अपनी शिक्षा को पूरा नहीं कर पाती हैं। गरीबी या पारिवारिक समस्या की वजह से छोटी उम्र में ही स्कूल छोड़ने को मजबूर होती है। अशिक्षित होने की वजह अधिकांश महिलाएं अपने जीवन स्तर में सुधार करने में खुद को असमर्थ महसूस करती हैं। वैसे तो प्रदेश सरकार ने महिला शिक्षा और छोटी बच्चियों की पढ़ाई पूरी करवाने के लिए कई सारी योजनाओं को शुरू किया है। उन्होने कहा कि घर या समाज में कहीं भी महिलाओं के साथ भेदभाव नहीं होना चाहिए। गौरतलब हो कि यह कार्यक्रम शासन के निर्देशानुसार विगत 27 फरवरी से 8 मार्च तक विद्यालय में आयोजित किया जा रहा है । इस संबंध में महराजगंज के जिला बेसिक शिक्षा अधिकारी ओम प्रकाश यादव के निर्देशानुसार ‘अभिभावक चौपाल’ का आयोजन किया गया । जिसमें विद्यालय के शिक्षक डॉ धनञ्जय मणि त्रिपाठी ने माता-पिता से कहा कि वे अपनी बच्चियों को नियमित रूप से स्कूल भेजने का संकल्प लें। उन्हें घर पर पढ़ाई करने के लिए उचित वातावरण प्रदान करें। इसके साथ ही अपनी बेटियों को अपनी पसंद का कैरियर बनाने के लिए प्रोत्साहित करें। सहायक अध्यापक अतुल कुमार मिश्र ने उपस्थित माता-पिता तथा छात्राओं को सरकार के हेल्पलाइन नंबरों के बारे में जानकारी दिया । नवनियुक्त शिक्षक रामजपित यादव ने ज्यादा से ज्यादा छात्राओं तथा उनकी माताओं को कार्यक्रम में हिस्सा लेने के लिए प्रेरित किया तथा महिलाओं के सशक्तिकरण के बारे में विस्तार से चर्चा किया। विद्यालय के शिक्षक डॉ धनञ्जय मणि त्रिपाठी ने विद्यालय में लैंगिक भेदभाव और बाल विवाह, प्रश्नोत्तरी प्रतियोगिता, छात्रों द्वारा नुक्कड़ नाटकों की प्रस्तुति की थीम पर पोस्टर प्रतियोगिता का आयोजन भी किया । इसके तहत स्कूल स्टाफ और कक्षा के छात्राओं को विद्यालय की प्रशिक्षु शिक्षिका सुश्री रंजना कुशवाहा ने ‘मासिक धर्म स्वच्छता’ के बारे में छात्राओं तथा उनकी माताओं को जागरूक किया। गौरतलब हो कि छात्रों ने विद्यालय से नियमित प्रकाशित होने वाला बाल अखबार ‘नवाचार’ को इस बार महिला सशक्तीकरण अंक के रूप में केन्दित कर प्रकाशित किया है। इस अवसर पर गांव की विभिन्न क्षेत्रों में सफल महिलाओं को छात्र-छात्राओं के साथ अपने अनुभव साझा करने के लिए स्कूलों में आमंत्रित किया गया। निवर्तमान ग्राम प्रधान श्रीमती सुनीता देवी ने अपने संघर्ष और सफलता की कहानी सुनाकर बच्चों को प्रेरित किया। इस अवसर पर श्रीमती ऐरून निशा, श्रीमती रीमा, श्रीमती कमला देवी, श्रीमती मीरा देवी, श्रीमती कलीमुन देवी, श्रीमती सरिता देवी, श्रीमती तेतरा देवी, कुमारी नेहा राजभर, श्रीमती लीलावती देवी आदि उपस्थित रहीं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *