यूपी : 12वीं बोर्ड की परीक्षा भी हुई रद्द, ऐसे तैयार किया जाएगा रिजल्ट

Spread the love

यूपी : 12वीं बोर्ड की परीक्षा भी हुई रद्द, ऐसे तैयार किया जाएगा रिजल्ट।योगी ने डिप्टी सीएम के साथ बैठक में लिया फैसला; 10वीं की भी परीक्षा कैंसिल हो चुकी है।पहली बार 26 लाख छात्र प्रमोट होंगे, हाईस्कूल और 11वीं के नंबर के आधार पर रिजल्ट बनेगा।

लखनऊ9 मिनट पहले

  • योगी ने डिप्टी सीएम के साथ बैठक में लिया फैसला; 10वीं की भी परीक्षा कैंसिल हो चुकी है

यूपी बोर्ड की 10वीं के बाद 12वीं की परीक्षा भी रद्द कर दी गई है। हाईस्कूल और 11वीं के नम्बर के आधार पर रिजल्ट दिया जाएगा। इसके लिए सरकार की तरफ से जल्द दिशा निर्देश जारी किए जाएंगे। सीएम योगी ने इस फैसले पर आखिरी मुहर लगाई। इसके पहले उन्होंने लोक भवन में डिप्टी सीएम व शिक्षा विभाग के अधिकारियों के साथ बैठक की। सीबीएसई, आईसीएसई के अलावा मध्य प्रदेश, गुजरात, उत्तराखंड की सरकारें बोर्ड की परीक्षा रद्द कर चुकी थीं। ऐसे में पहले ही इस बात की प्रबल संभावना थी कि यूपी सरकार भी परीक्षा रद्द करेगी। यूपी बोर्ड की 10वीं की परीक्षा सरकार पहले ही रद्द कर चुकी है।

हालांकि, बताया जा रहा है कि डिप्टी सीएम दिनेश शर्मा ने 12वीं की परीक्षा कराने की तैयारी की थी। लेकिन कोरोना की तीसरी लहर की आशंका को देखते हुए सरकार ने परीक्षा रद्द करना बेहतर समझा।

करीब 30 मिनट तक चली बैठक
इससे पहले सीएम योगी के साथ डिप्टी सीएम दिनेश शर्मा समेत शिक्षा बोर्ड के अधिकारियों के साथ करीब 30 मिनट बैठक चली। 10:30 बजे शुरू हुई बैठक 11:00 बजे समाप्त हुई। शिक्षा बोर्ड के द्वारा तैयार की गई कमेटी ने रिपोर्ट मुख्यमंत्री के सामने पेश की। इसमें परीक्षा रद्द किए जाने के बाद परीक्षार्थियों के अन्य विकल्प के सुझाव दिए गए।

यूपी में 12वीं में 26 लाख परीक्षार्थी
यूपी बोर्ड 12वीं की परीक्षा के लिए 26,09,501 स्टूडेंट्स पंजीकृत हैं। यूपी बोर्ड की हाईस्कूल की परीक्षाएं पहले ही रद्द कर दी गई हैं। सीबीएसई व सीआईसीएसई ने भी 12वीं की परीक्षाएं रद्द करने की घोषणा की है। अब हाईस्कूल और 12वीं का रिजल्ट किस आधार पर तैयार किया जाए। इसके विकल्पों पर विचार किया जा रहा है। सरकार ने इसके लिए एक अलग कमेटी भी बना दी है।

बोर्ड सचिव ने प्री बोर्ड के मार्क्स मांगे थे
बोर्ड सचिव दिव्यकांत शुक्ला ने 22 मई को ही सभी स्कूलों से क्लास 12 के प्री-बोर्ड और 11वीं के छमाही व वार्षिक परीक्षा के अंक मांगे थे, 28 मई तक अधिकांश स्कूल छात्र-छात्राओं के अंक डाटा भी ऑनलाइन पोर्टल पर फीड कर दिया।

UP बोर्ड की भी तैयारी पूरी

  • बोर्ड ने कक्षा 12 की फरवरी में हुई प्रीबोर्ड परीक्षा का रिकॉर्ड मांगा है।
  • बोर्ड सचिव ने DIOS से 28 मई की शाम तक वेबसाइट पर अंक अपलोड करने का निर्देश दिया था।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *