“भारतीयों की सुरक्षित निकासी सुनिश्चित करें”: अफगानिस्तान पर बैठक में पीएम मोदी ने कहा..

Spread the love

नई दिल्‍ली : अफगानिस्‍तान के हालात ने भारत के लिए चिंता बढ़ा दी है. वहां की स्थिति की समीक्षा के लिए आज प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने अपने निवास पर उच्चस्तरीय बैठक बुलाई. बैठक में रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह, गृह मंत्री अमित शाह, वित्‍त मंत्री निर्मला सीतारमण के अलावा राष्‍ट्रीय सुरक्षा सलाहकार अजीत डोभाल भी मौजूद हैं.जानकारी के अनुसार, अफगानिस्‍तान के हालात को लेकर प्रधानमंत्री लगातार शीर्ष अधिकारियों के संपर्क में हैं. वे कल देर रात तक हालात के बारे में जानकारी ले रहे थे और काबुल से फ्लाइट के उड़ान भरने में बारे में उन्‍हें अपडेट किया गया था. जो लोग जामनगर लौटे थे, उनके लिए भोजन और अन्‍य व्‍यवस्‍था के लिए भी पीएम ने निर्देश दिए थे. 

दूतावास पर नज़र गड़ाए था तालिबान – जानें, मुश्किल हालात में भारत ने स्‍टाफ को कैसे सुरक्षित निकाला…

गौरतलब है कि काबुल में भारतीय राजदूत एवं दूतावास के कर्मियों समेत 120 लोगों को लेकर भारतीय वायुसेना का एक विमान मंगलवार को अफगानिस्तान से गुजरात के जामनगर पहुंचा था. सी-19 विमान पूर्वाह्न 11 बजकर 15 मिनट पर जामनगर में वायुसेना अड्डे पर उतरा और फिर वह ईंधन भराने के बाद तीन बजे अपराह्न दिल्ली के समीप स्थित हिंडन एयरबेस के लिए रवाना हो गया था. यह विमान ने शाम को हिंडन एयरपोर्ट पहुंचा.

समाजवादी पार्टी के सांसद का ‘अजीबोगरीब’ बयान, ‘अफगानिस्‍तान की आजादी के लिए लड़ रहा तालिबान’अफगानिस्तान की राजधानी काबुल पर तालिबान के कब्जे के बाद वहां पैदा हालात के मद्देनजर आपात स्थिति में लोगों को वहां से निकालने के लिए इस विमान ने भारतीय कर्मियों को लेकर काबुल से उड़ान भरी थी.अफगानिस्तान में भारतीय राजदूत रूद्रेंद्र टंडन ने बताया कि काबुल में स्थिति अब बहुत जटिल और नाजुक है तथा वहां फंसे लोगों को वाणिज्यिक उड़ान सेवाएं बहाल होने के बाद वापस लाया जाएगा.उन्होंने कहा, ‘‘ सुरक्षित घर पहुंचकर खुश हूं.’ (भाषा से भी इनुपट)

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *