यूपी चुनाव को लेकर गृहमंत्री अमित शाह के घर हुई महत्वपूर्ण बैठक, योगी आदित्यनाथ भी रहे मौजूद

Spread the love

नई दिल्ली : UP Assembly Election 2022: गृहमंत्री अमित शाह (Amit Shah) के आवास पर यूपी विधानसभा चुनाव को लेकर चल रही बैठक खत्म हो गई है. बैठक तकरीबन साढ़े तीन घंटे चली. बैठक में अमित शाह के अलावा बीजेपी अध्यक्ष जे पी नड्डा (JP Nadda), यूपी सीएम योगी आदित्यनाथ (Yogi Adityanath), यूपी बीजेपी के अध्यक्ष स्वतंत्र देव सिंह और संगठन महासचिव सुनील बंसल शामिल थे. बैठक में यूपी में योगी मंत्रिमंडल के विस्तार, विधान परिषद के उम्मीदवार तथा संगठन से जुड़े विषयों पर चर्चा हुई. साथ ही सहयोगी दलों को साथ लेने पर भी जोर दिया गया.

बता दें कि यूपी विधानसभा चुनाव (UP Polls) को लेकर बीजेपी मिशन मूड में है. विधानसभा चुनाव को लेकर बीजेपी ने ज़मीनी स्तर संगठन पर काम करना शुरू कर दिया है. बीजेपी चुनावी दृष्टि से यूपी में माइक्रो लेवल पर मैनेजमेंट कर रही है. यूपी की सभी 403 विधानसभा सीटों पर जल्दी ही प्रभारियों की नियुक्ति होगी. राज्यसभा सांसदों, विधान परिषद के सदस्यों, बोर्ड और आयोग के अध्यक्ष तथा उपाध्यक्षों और वरिष्ठ नेताओं को विधानसभा सीटों का प्रभारी नियुक्त किया जायेगा.

नई दिल्ली : UP Assembly Election 2022: गृहमंत्री अमित शाह (Amit Shah) के आवास पर यूपी विधानसभा चुनाव को लेकर चल रही बैठक खत्म हो गई है. बैठक तकरीबन साढ़े तीन घंटे चली. बैठक में अमित शाह के अलावा बीजेपी अध्यक्ष जे पी नड्डा (JP Nadda), यूपी सीएम योगी आदित्यनाथ (Yogi Adityanath), यूपी बीजेपी के अध्यक्ष स्वतंत्र देव सिंह और संगठन महासचिव सुनील बंसल शामिल थे. बैठक में यूपी में योगी मंत्रिमंडल के विस्तार, विधान परिषद के उम्मीदवार तथा संगठन से जुड़े विषयों पर चर्चा हुई. साथ ही सहयोगी दलों को साथ लेने पर भी जोर दिया गया.

बता दें कि यूपी विधानसभा चुनाव (UP Polls) को लेकर बीजेपी मिशन मूड में है. विधानसभा चुनाव को लेकर बीजेपी ने ज़मीनी स्तर संगठन पर काम करना शुरू कर दिया है. बीजेपी चुनावी दृष्टि से यूपी में माइक्रो लेवल पर मैनेजमेंट कर रही है. यूपी की सभी 403 विधानसभा सीटों पर जल्दी ही प्रभारियों की नियुक्ति होगी. राज्यसभा सांसदों, विधान परिषद के सदस्यों, बोर्ड और आयोग के अध्यक्ष तथा उपाध्यक्षों और वरिष्ठ नेताओं को विधानसभा सीटों का प्रभारी नियुक्त किया जायेगा.

राज्यसभा के सांसद और विधान परिषद के वो सदस्य जो राज्य सरकार में मंत्री रहे हैं और संगठन बड़ी जिम्मेदारी निभा चुके हैं, उन्हें 2 से 4 विधानसभा सीटों का प्रभारी बनाया जाएगा. इन प्रभारियों का काम होगा कि वो विधानसभा सीटों के संगठन के सभी काम और प्रदेश ऑफ़िस के साथ समन्वय करें. पार्टी की रणनीति, मुद्दों और उम्मीदवारों के चयन में इन प्रभारियों का फ़ीड्बैक बहुत महत्वपूर्ण होगा. सितम्बर के अंत सभी पार्टी के संगठन के द्वारा विधानसभाओं में बूथ कमेटी और शक्ति केंद्र की जांच पूरी हों जाएगी. यह जांच होगी कि प्रदेश कार्यालय में बूथ और शक्ति केंद्र स्तर का डेटा ग़लत तो नहीं दिया गया. एक बूथ पर लगभग 30 से 35 तक पन्ना प्रमुख बनाए जा रहे हैं. दस बूथ पर एक शक्ति केंद्र बनाया जाएगा. 

बीजेपी यूपी विधानसभा चुनाव के लिए पूरी ताकत लगाएगी. प्रधानमंत्री, गृह मंत्री और बीजेपी अध्यक्ष के हर महीने यूपी के दौरे होंगे. प्रधानमंत्री कई विकास परियोजनाओं का उद्घाटन और शिलान्यास करेंगे. नए मंत्री जन आशीर्वाद यात्रा के माध्यम से सामाजिक समीकरणों को साधने का संदेश जनता तक पहुंचा रहे हैं.


Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *